अब नहीं सताएगा Math का डर

शिमला: यहां स्कूली बच्चों के लिए एक अच्छी खबर है। बता दें कि स्कूल शिक्षा बोर्ड 10वीं के गणित के पेपर का प्रारूप बदलने जा रहा है।
इसमें 20% अंकों के प्रश्न ऑब्जेक्टिव तरह के शामिल करने की तैयारी शुरू हो गई है। प्रश्न पत्र में आवश्यक संशोधन को बोर्ड ने अकादमिक शाखा को प्रारूप तैयार करने के निर्देश दिए हैं। जानकारी के मुताबिक अकादमिक शाखा का प्रारूप अगर बोर्ड प्रबंधन को रास आया तो साल 2017 में 10वीं, 12वीं के अन्य विषयों की तर्ज पर 10वीं के गणित पेपर का पैटर्न भी बदल जाएगा। 10वीं का वार्षिक परीक्षा परिणाम खराब रहने का बड़ा कारण गणित में बच्चों का पिछड़ना रहता है।
ऐसे में अगर गणित के पेपर में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल शामिल किए जाते हैं तो हजारों छात्रों को फायिदा होगा और बच्चों पर मनोवैज्ञानिक दबाव भी कम होगा। इस मुद्दे को लेकर विज्ञान अध्यापक संघ के प्रतिनिधिमंडल ने बोर्ड सचिव डा. विशाल शर्मा से मुलाकात कर 10वीं कक्षा के गणित पेपर में संशोधन की मांग की है। संघ ने गणित विषय के नए पैटर्न के प्रस्तावित प्रश्नपत्रों के नमूने भी बोर्ड अधिकारियों को दिए। प्रदेश विज्ञान अध्यापक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष मनोज पाल सिंह परिहार का कहना है कि 10वीं और 12वीं के सभी विषयों में ऑब्जेक्टिव टाइप सवालों का प्रावधान रहता है। मामले को एग्जामिन किया जाएगा। शाखा ने अगर छात्र हित में ऑब्जेक्टिव सवाल जोड़ने की सिफारिश की तो पेपर का पैटर्न बदल दिया जाएगा।

स्रोत : पंजाब केसरी

Facebook Comments