जे मन बदळी जांगा ता..

लाड़ी: कुथिया जो चली रे?😒
लाड़ा : मरणा 😔
लाड़ी: सौगी इक झोळू लेई के जांयों😒
लाड़ा: कजो?😔
लाड़ी: जे मन बदळी जांगा ता औंदी बारी 2 किलो प्याज़ कने लुंगड़ू लैंदे औयां।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।