पठानकोट-मंडी फोरलेन के लिए मंज़ूर हुए 815 करोड़

पठानकोट-मंडी फोरलेन के लिए केंद्र की और से 815.686 करोड़ की राशि मंजूर की है। कांगड़ा जिला के थानपुरी से परौर के बीच के फोरलेन निर्माण और पुनर्वास के लिए यह राशि मंजूर की गई है। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इसकी जानकारी ट्वीट के जरिए दी है।

उन्होंने लिखा है कि पठानकोट-मंडी फोरलेन सडक़ परियोजना के तहत कांगड़ा जिला के थानपुरी से लेकर परौर के बीच के हिस्से में बनने वाले सडक़ और निर्माण के चलते पुनर्वास के लिए लोगों को दी जाने वाली राहत राशि के लिए 815.686 करोड़ की राशि मंजूर की गई है।

उन्होंने बताया कि फोरलेन के इस हिस्से में बनने वाली सडक़ का कार्य 21 महीनों में पूरा किया जाना है। केंद्र की और से जारी इस धनराशि से फोरलेन का कार्य अब अविलंब पूरा हो पाएगा। पठानकोट मंडी महत्वाकांक्षी परियोजना को चरणबद्ध तरीके से मिल रही धनराशि के चलते अब जल्द ही इस परियोजना के गति पकड़ने की उम्मीद लगाई जा रही है।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इससे पूर्व भी पठानकोट से लेकर थानपुरी तक की सडक़ के लिए धनराशि मंजूर कर इस परियोजना को गति देने के दिशानिर्देश जारी किए हैं।

संबंधित >> पठानकोट-मंडी फोरलेन प्रोजैक्ट में बदलाव, अब परौर से मंडी तक बनेगा टू-लेन

फोरलेन अपडेट – पहले चरण का काम शुरू

आइआरबी कंपनी ने पिछले महीने ही  नूरपुर क्षेत्र में कंडवाल से भेड़खड्ड तक पहले चरण में फोरलेन निर्माण का कार्य शुरू हो चुका है। पठानकोट-मंडी फोरलेन पहले चरण में नूरपुर क्षेत्र के तहत कंडवाल से भेड़खड्ड तक 28 किलोमीटर बनेगा और इस पर 828 करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है।

यह कार्य करीब चार-पांच जगह पर चल रहा है। नूरपुर के तहत करीब 11 हजार पेड़ काटे जाएंगे। प्रक्रिया पूरी कर इन्हें काटा जाएगा। मार्ग में आने-जाने के लिए दो-दो लेन होंगे और ये 11-11 मीटर चौड़े होंगे और बीच में दो से चार मीटर का डिवाइडर होगा। जसूर बाजार में फ्लाई ओवर बनेगा और यह करीब 900 मीटर लंबा होगा।

संबंधित >>

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।