चंद्रमा पर लापता लैंडर का पता चला, आर्बिटर सही और सुरक्षित

भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन इसरो के प्रमुख के सिवन ने बताया कि चन्द्रयान -2 के लैंडर विक्रम के चंद्रमा की सतह पर होने का पता चला है.

स्थापित हो रहा संपर्क

सिवन ने कहा कि उन्हें लैंडर विक्रम के चाँद की सतह पर होने का पता चला है. हार्ड लैंडिंग के बार में जब सिवन से सवाल पूछा गया तो उन्होंनें इस बारे में अनभिज्ञता जताई लेकिन कहा कि विक्रम मॉड्यूल से सम्पर्क स्थापित करने की कोशिश की जा रही है.

टूट गया था संपर्क

गौरतलब है कि भारतीय अन्तरिक्ष एजेंसी इसरो द्वारा चंद्रमा की सतह पर चंद्रयान -2 के विक्रम लैंडर की सॉफ्ट लैंडिंग का अभियान शनिवार को अपनी तय योजना के अनुसार पूरा नहीं हो पाया था.लैंडर को शुक्रवार देर रात 1 बजकर 38 मिनट पर चाँद की सतह पर उतारने की प्रक्रिया शुरू की गई लेकिन चाँद पर नीचे की ओर आते समय 2.1 किलोमीटर की ऊँचाई पर जमीनी स्टेशन से इसका संपर्क टूट गया था.

आर्बिटर सुरक्षित और सही

इसरो के अधिकारियों के अनुसार चन्द्रयान-2 का आर्बिटर पूरी तरह सुरक्षित और सही है. हालाँकि चाँद पर पहुँचने से कुछ ही मिनट मिले इस झटके से सिवन भावुक हो गये थे जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी ने गले लगाकर साहस बंधाया.

 

 

 

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।