बर्फ़बारी के चलते पर्यटकों के लिए बंद हुआ रोहतांग दर्रा

हिमाचल प्रदेश में मौसम के बदलने के साथ ही प्रदेश के पहाड़ों ने बर्फ की चादर ओढ़ ली है। वहीं प्रदेश के निचले इलाकों में बारिश का दौर लगातार जारी है। शनिवार को भी इन इलाकों में बारिश हुई है। मौसम में आए इस परिवर्तन के कारण प्रदेश में ठंड का असर भी देखा जा रहा है।

प्रदेश की राजधानी शिमला में रविवार को सुबह से तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। प्रदेश के अन्य हिस्सों में भी बारिश का क्रम जारी है। प्रदेश के दुर्गम इलाके लाहुल स्पीति की बात करें तो रोहतांग दर्रे सहित राहनीनाला, मढ़ी, धुंधी जोत, पतालसू जोत, इंद्र किला, लदाखी पीक, सेवन सिस्टर पीक, हनुमान टिब्बा मकरबे व शिकरबे की पहाड़ियों, भृगु व दशौहर की पहाड़ियों ने भी बर्फबारी का क्रम जारी है। लाहुल में बारालाचा दर्रे सहित जिंगजिंगबार, दारचा की पहाड़ियों, मयाड़ घाटी, घेपन पीक, लेड़ी आफ केलंग, कुंजुम जोत, दारचा की पहाड़ियों, शिला पीक, बढ़ा व छोटा शिंगरी ग्लेशियर व नील कंठ जोत सहित समस्त ऊंची चोटियों में बर्फ के फाहे गिर रहे हैं।

 

 

 

 

 

 

 

लाहुल स्पीति में समय से पहले की बर्फबारी से सेब की फसल को नुकसान होने की आशंका बढ़ गई है। कई सड़कें अभी भी अवरुद्ध है। मनाली-लेह मार्ग सहित मनाली काजा, मनाली शिंकुला कारगिल मार्ग अवरुद्ध चल रहे हैं।। बर्फबारी होती देख एचआरटीसी ने केलंग मनाली के बीच बस सेवा बंद कर दी है।

उधर रोहतांग दर्रा भी पर्यटकों के लिए बंद कर दिया है। एसडीएम मनाली ने बताया बर्फबारी के चलते अटक टनल सहित रोहतांग दर्रा पर्यटकों के लिए बंद कर दिया है। उन्होंने सैलानियों से आग्रह किया कि प्रशासन का सहयोग करें और बर्फीले क्षेत्रों का रुख न करें। डीसी नीरज कुमार ने कहा कि समस्त जिला लाहुल स्पीति में कल रात से बर्फबारी हो रही है। उन्होंने कहा कि सभी मार्ग बंद हो गए हैं, इसलिए लोग व पर्यटक सफर पर न निकलें। पर्यटकों से भी आग्रह है कि वे मौसम साफ होने तक लाहुल स्पीति के पर्यटन स्थलों का रुख न करें।

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।