इस जगह बनेगा प्रदेश का पहला अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा

मंडी : मंडी जिला की बल्ह घाटी में हिमाचल प्रदेश का पहला अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनेगा। पिछले दिनों केंद्र से आई एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की टीम ने पांच साइट्स का सर्वे करने के बाद घाटी में एक नई साइट का चयन किया है।

पत्रकार वार्ता में दी जानकारी

इस बात की जानकारी खुद सीएम जयराम ठाकुर ने मंडी में पत्रकारों से बातचीत के दौरान दी। सीएम ने बताया कि टीम ने घाटी के नेरचौक के पास नई साइट का चयन किया है, जहां पांच किलोमीटर का रनवे बन सकता है और सेटेलाइट सर्वे के बाद इस साइट को एक सप्ताह के भीतर फाइनल कर दिया जाएगा।

4 जगहों पर सिलेक्ट की थी साईट

बता दें कि बल्ह में पहले नेरढांगू के पास हवाई अड्डे के लिए साइट सिलेक्ट की गई थी और जिला के चार अन्य स्थानों पर भी साइट्स दिखाई गई थी लेकिन कहीं पर भी बड़ा हवाई अड्डा बनने की संभावना नजर नहीं आ रही थी। जब यह टीम मौवीसेरी की साईट देखने गई थी तो वहां से बल्हघाटी की इस नई साइट पर नजर पड़ी थी। सीएम ने कहा कि जो साइट देखी गई है वहां पर ही बड़ा एयरपोर्ट बनाने की संभावना नजर आ रही है इसलिए इसको फाइनल किया जा रहा है। यहां सर्दियों के दिनों में होने वाली धुंध की समस्या पर बोलते हुए सीएम ने कहा कि इसके लिए टीम ने सभी बातों को पहले से ध्यान में रखा है।

सर्दियों में रहती है धुंध की समस्या

सीएम ने कहा कि सर्दियों में सिर्फ तीन महीने फॉग की दिक्कत रहती है और ऐसी ही फॉग दिल्ली में भी पड़ती है। लेकिन हवाई अड्डे पर बाधा कम पहुंचे इसलिए आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। जयराम ने इस बात को भी माना कि बल्ह घाटी मंडी जिला की घनी आबादी वाला इलाका है।

प्रभावितों को दिया जायेगा मुआवजा

यहां एयरपोर्ट के बदले काफी बड़े स्तर पर विस्थापन होगा। उन्होंने कहा कि इन सब बातों को लेकर पहले लोगों से भी बात की जाएगी और जब विस्थापन होगा तो प्रभावितों को सरकार उचित मुआजवा प्रदान करेगी। इसके बाद सीएम सुंदरनगर पहुंचे और वहां उन्होंने 6 करोड़ 36 लाख की लागत से बनने वाली पार्किंग, 1 करोड़ 80 लाख की लागत से बनने वाले फॉर्मर प्रशिक्षण केंद्र और 2 करोड़ की लागत से बनने वाली सिंचाई योजना का शिलान्यास भी किया।

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।