सरकार जल्द बहाल करे पुरानी पेंशन : एनपीएसईए

मंडी : हिमाचल प्रदेश के विभिन्न विभागों में 2003 के बाद नियमित सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन बहाल की जाए ताकि बुढ़ापे में सभी कर्मचारियों के परिवार का निर्वाह अच्छे से हो सके और सेवानिवृत्त कर्मचारी दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर न हों।  यह मांग न्यू पेंशन स्कीम इंप्लाइज एसोसिएशन खंड औट ने बैठक के दौरान प्रदेश सरकार से की है।

खंड के अध्यक्ष दुर्गा सिंह ठाकुर, महासचिव लाभ सिंह ठाकुर, कोषाध्यक्ष मनोज कुमार, मीडिया प्रभारी मोहन सिंह सकलानी व वेदव्यास, महिला मोर्चा प्रधान किरण कुमारी ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मांग की है कि 27 नवंबर को अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के साथ होने जा रही संयुक्त समन्वय समिति (जेसीसी) की बैठक में प्रदेश के लाखों कर्मचारियों से जुड़े मुद्दे पुरानी पेंशन बहाली को अंजाम दिया जाए। सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन बहाल करके एक तोहफा दिया जाए।

संघ ने प्रदेश के खंड के कर्मचारियों से निवेदन किया कि 28 नवंबर को प्रदेश स्तरीय बैठक जो कांगड़ा में होने जा रही है उसमें बढ़.चढ़कर भाग लें। उल्लेखनीय है कि 2004 में केंद्र सरकार ने नई पेंशन योजना को लागू किया जबकि हिमाचल प्रदेश सरकार ने 15 मई 2003 को ही नई पेंशन स्कीम को लागू किया जो कि कर्मचारियों के साथ एक बहुत बड़ा धोखा है।

खंड औट के तमाम कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री से निवेदन किया है कि जल्द सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन प्रदान करें। उन्होंने कहा कि एक देश, एक विधान, एक पेंशन सिद्धांत के तहत समस्त कर्मचारियों को समान पेंशन प्रदान करके लाभान्वित करें अन्यथा भविष्य में कर्मचारी किसी भी सरकार के खिलाफ लामबंद होने से गुरेज नहीं करेंगे। यह जानकारी एनपीएसईए खंड औट के मीडिया प्रभारी मोहन सिंह सकलानी व वेद व्यास ने दी है।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।