शराब के ठेकों पर नारी शक्ति भारी

पंजाब केसरी|| शराब के ठेकों को लेकर जंग आर-पार की होने लगी है। नारी शक्ति ने ठेकों को स्थापित किए जाने के विरोध में समूचे उपमंडल में अनेक स्थानों पर मोर्चा खोल दिया है। नगरी-चचियां, बैजनाथ, परौर व बनूरी आदि स्थानों पर ठेके की स्थापना को लेकर जोरदार विरोध होने लगा है, ऐसे में महिलाएं अब सड़क पर उतरकर सीधे टकराव के मूड में दिख रही हैं।

जानकारी के अनुसार मंगलवार को बनूरी में महिलाएं व स्थानीय लोगों का विरोध चरम पर जा पहुंचा तथा स्थिति तनावपूर्ण हो गई, ऐसे में उपमंडलाधिकारी नागरिक व डी.एस.पी. मौके पर पहुंचे, वहीं आबकारी एवं कराधान विभाग के अधिकारी भी बनूरी पहुंचे, ऐसे में प्रशासन के दखल के बाद स्थिति कुछ काबू में आई।

बनूरी में आधी रात तक महिलाएं ठेके के बाहर विरोध स्वरूप डटी रहीं, ऐसे में प्रशासन द्वारा ठेके को अन्यत्र शिफ्ट किए जाने का आश्वासन दिया गया परंतु महिलाएं व स्थानीय लोग अभी भी मौके पर ही लामबंद हैं।

परौर में वन भूमि से हटाया ठेका

परौर में शराब के ठेके के विरोध में उतरी महिलाओं ने वन विभाग की भूमि पर ठेकेदार द्वारा रखे टीननूमा खोखे को वहां से हटाया दिया गया। इस दौरान स्थिति इतनी बिगड़ी कि भवारना व पालमपुर थानों से पुलिस बल को मौके पर पहुंच कर दखल देनी पड़ी। इस दौरान धरोट महिला मंडल व परौर की महिलाओं व पंचायत के लोगों ने आरोप लगाया कि ठेकेदार द्वारा सारी बातों को नजरअंदाज करके जबरन वन विभाग की भूमि पर शराब का ठेका खोलने की कोशिश की जा रही है, जिसे वन विभाग के अधिकारियों ने जे.सी.बी. से हटाकर पीछे की ओर धकेल दिया।

विभाग के गार्ड अंकुश का कहना है कि जिस स्थान पर शराब का ठेका खुलने जा रहा था वह वन विभाग की भूमि पर था। अत: उचित कार्रवाई करते हुए ठेके का निर्माणाधीन शैड वहां से हटा दिया गया।

मझैरना रोड में महिलाओं ने सड़क पर जमाया डेरा

बैजनाथ के पंडोल रोड में तथा पपरोला के मझैरना रोड में शराब के ठेका खुलने पर महिलाओं ने ठेके के सामने बैठकर धरना-प्रदर्शन कर सड़क पर डेरा जमा लिया जिस कारण जाम लग गया। इस मुहिम में नप की वार्ड नंबर 1,2, 3 तथा 5 दर्जन महिलाओं व पुरुषों ने वार्ड 2 के पार्षद अमित कपूर, वार्डनंबर 3 की पार्षद रुचि कपूर तथा वार्ड नंबर 4 के पार्षद रमेश कुमार की अगुवाई में बाजार में नारेबाजी की तथा दुकान मालिक के विरुद्ध भी नारेबाजी की।

एस.डी.एम. बैजनाथ सुनैना शर्मा ने बताया कि पंडोल रोड में रिहायशी इलाके में ठेका न खुले इसके लिए ई.टी.ओ. बैजनाथ को निर्देश देने के बाद ठेके को बंद करवा दिया लेकिन शाम को फिर से ठेके के मालिक द्वारा शराब की जीप वहां पहुंचने पर महिलाएं एकत्रित हो गईं और सड़क में बैठ कर धरना देकर सड़क को बंद कर दिया।

ठेका खोलने पर महिलाएं आग बबूला

शाहपुर के चड़ी में मंगलवार को महिलाएं उस समय आग बबूला हो गईं जब शराब के ठेकेदार ने दुकान शराब बेचने के लिए शराब के ठेके को खोल दिया। इस दारौन सैंकड़ों महिलाओं ने सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया और शराब के ठेके के अंदर रखे सम्मान को बाहर सड़क किनारे रख दिया।

शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती पंचायत चड़ी में ठेके के विरोध में गुस्साई महिलाओं व उनके साथ पुरुषों ने मिलकर डी.सी. व एस.पी. कांगड़ा को चड़ी में खोले जाने वाले ठेके को बंद करवाने के लिए शिकायत पत्र प्रेषित किया।

डी.सी. कांगड़ा व एस.पी. कांगड़ा को शिकायत पत्र प्रेषित करते हुए चड़ी पंचायत की महिलाओं ने बताया कि बीच बाजार में शराब का ठेका खोला जा रहा है, जोकि सही नहीं है। डी.सी. कांगड़ा व एस.पी. कांगड़ा द्वारा चड़ी पंचायत की लोगों को इस समस्या को मद्देनजर रखते हुए चड़ी बाजार के बीच में खोले जाने वाले ठेके को बंद करने का निर्देश दे दिए गए हैं।

मंदिर के सामने ठेका खोला तो होगा आंदोलन

उधर, हारचक्कियां में रानीताल-32 मील सड़क मार्ग के तीखे मोड़ पर हनुमान मंदिर के सामने शराब का ठेका खोलने का ग्रामीणों ने कड़ा विरोधकिया है। ग्रामीणों ने मंगलवार को इंद्रजीत व प्रेम चंद के नेतृत्व में हारचक्कियां उप तहसील के नायब तहसीलदार के माध्यम से शराब ठेका खोलने के विरोध में कांगड़ा के एस.डी.एम. को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों ने चेताया कि यदि हनुमान मंदिर के सामने तीखे मोड़ पर शराब ठेका खोला गया तो विरोध में आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा।

नगरोटा बगवां में भी विरोध

नगर परिषद नगरोटा बगवां के वार्ड नंबर 4 में तथा पंचायत में ठेके खुलने का गांव वासियों ने विरोध किया। मंगलवार को वार्ड नंबर 4 के प्रकाश चंद, गोल्डी, राजकुमार, पुरुषोत्तम, प्यार चंद, मस्त राम, रेनु देवी, रक्षा देवी, वीना, बिक्रमा देवी, सुमना, सविता, सुनीता, शकुंतला, वीना, रश्मा, सुषमा व किरण देवी आदि ने उनके वार्ड में ठेका खुलने का कड़ा विरोध जताया तथा तहसीलदार नगरोटा बगवां को ज्ञापन सौंपकर ठेके को वहां से किसी दूसरी जगह स्थानांतरित करने का आग्रह किया, वहीं ग्राम पंचायत भुनेड़ में भी महिला मंडल ओहलड़ी व बल्ला की महिलाओं ने शराब के ठेके का विरोध जताया।

Facebook Comments