सरस्वती विद्या मंदिर टिकरू में लगाया गया रूबेला का एमआर टीका

स्वास्थ्य विभाग ने खसरा -रूबेला जैसी बीमारियों से प्रदेश के बच्चों को मुक्त करने की तैयारी कर दी है. इसी अभियान के तहत बुधवार को टिकरू पंचायत में तीन चरणों में यह टीकाकरण किया जा रहा है. हिमाचल शिक्षा समिति द्वारा टिकरू में संचालित सरस्वती माध्यमिक विद्या मंदिर में बुधवार को खसरा- रूबेला टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण के तहत स्कूली बच्चों को टीके लगाए गये.

प्रधानाचार्य ने दी जानकारी

सुबह प्रार्थना सभा में विद्यालय के प्रधानाचार्य अजय कुमार ने सभी बच्चों को रूबेला टीकाकरण के बारे में जानकारी दी. उन्होंनें बताया कि बच्चों के मन से इस टीके के प्रति भय को दूर किया.उन्होंनें बताया कि भय के कारण बच्चों में बुखार आ जाता है इसलिए टीकाकरण से पहले बच्चों के अंदर का भय समाप्त करना जरूरी है.

9 से 15 साल के बच्चों को लगेगा टीका

उधर टीकाकरण हेतु आई एएनएम कुमारी आरती ने बताया कि यह अभियान भारत सरकार की तरफ से चलाया जा रहा है जिसमें 9 साल की उम्र से 15 साल तक के बच्चों को यह टीके लगाये जा रहे हैं. टिकरू में बुधवार को दूसरे चरण के तहत यह टीकाकरण किया गया.

बुखार से पीड़ित को नहीं लग रहा टीका

एएनएम कुमारी आरती ने बताया कि अगर कोई बच्चा बुखार से पीड़ित है तो ऐसे में यह टीका नहीं लगाया जायेगा. उधर टीकाकरण से पहले बच्चों को भोजन करवाना भी जरूरी है. टिकरू में टीकाकरण में बच्चों की संख्या शत प्रतिशत रही.

अभिभावक न हों चिंतित

उधर एएनएम ने बताया कि इस टीकाकरण के लिए अभिभावक चिंतित हैं जबकि चिंता करने की कोई भी जरूरत नहीं है. सरस्वती विद्या मंदिर टिकरू के बच्चों ने बड़े ही साहस के साथ इस अभियान को सफल बनाया.

15 सितम्बर को होगा अंतिम चरण

अब टिकरू पंचायत में टीकाकरण का अंतिम चरण 15 सितम्बर को सालंग आंगनबाड़ी केंद्र में, 18 को टिकरू आंगनबाड़ी केंद्र तथा 19 को भजकैड़ा आंगनबाड़ी केंद्र में होगा.  इस अवसर पर आशा कार्यकर्ता मृदुला कुमारी,सुषमा देवी तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पदमा देवी तथा अरुणा कुमारी उपस्थित थीं. अंत में स्कूल के प्रधानाचार्य ने सभी के सहयोग के लिए धन्यवाद किया.

Facebook Comments