मनोरंजन के साथ कमाई का जरिया भी बन गया है सोशल मीडिया

आज हर किसी के हाथ में स्मार्टफोन है। सोशल मीडिया से भी हर कोई जुड़ा है। ज्यादातर लोग मनोरंजन और खुद को अपडेट रखने के लिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन अब एक तबका ऐसा भी उभर रहा है जो मनोरंजन के साथ इस मीडिया को कमाई का जरिया बना रहा है।

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में भी कई ऐसे युवा इंफ्लुएंसर्स हैं जो सोशल मीडिया के जरिये अब अच्छा पैसा कमा रहे हैं। सोशल मीडिया पर मिली पहचान इन्हें न सिर्फ इंटरनेट से कमाई दे रही है बल्कि कारोबार जगत से भी पैसा कमाने का विकल्प दे रही है।

सोमवार को अमर उजाला कार्यालय में आयोजित संवाद कार्यक्रम में इन इफ्लुएंसर्स ने अपने अनुभव साझा किए। कहा कि यदि आपके पास समय है और हर दिन कुछ नया करने का जज्बा है तो सोशल मीडिया फायदेमंद है।

फेसबुक, इंस्टाग्राम, यूट्यूब, ट्विटर और व्हाट्सऐप के बढ़ते इस्तेमाल से सोशल मीडिया में ही कॅरिअर बनाने के कई विकल्प हैं। शुरुआत में फॉलोअर बनाने में मेहनत जरूरी है लेकिन इसके बाद आपको पैसा कमाने के कई अवसर मिलने लगते हैं।

हिमाचल पर्यटन स्थलों से भरा पड़ा है। देश दुनिया के लोग इसे देखना चाहते हैं। यही कारण है कि हिमाचल में ज्यादातर इंफ्लूएंसर्स इन पर वीडियो बनाकर पहचान बना रहे हैं। हालांकि, कई चुनौतियां भी हैं। फोटो और वीडियो से ज्यादा अब रील का ट्रेंड शुरू हो चुका है।

ऐसे में सोशल मीडिया से जुड़े लोगों को भी इन बदलावों में ढलना जरूरी है। फॉलोवर्स की संख्या को लेकर नए बेंचमार्क तय हो रहे हैं। हजारों की जगह लाखों फॉलोअर्स वाले इंफ्लूएंसर्स हो गए हैं।

संदीप चौधरी, ट्रैवल इंफ्लुएंसर्स (सोशल मीडिया से पैसा आया तो छोड़ दी नौकरी)

सोशल मीडिया पर सबसे जरूरी है कि आपका कंटेंट अच्छा हो। कंटेंट अच्छा होगा तो दर्शक ज्यादा देर तक इसे देखेगा जिससे वॉच टाइम ज्यादा होगा। ट्रेंड के साथ चलना भी जरूरी है।

सोशल मीडिया कमाई का जरिया बन रहा है। लेकिन पहले तय करना होगा कि आप कौन से मीडिया में जाना चाहते हो। मैंने यूट्यूब चुना और जब इससे कमाई शुरू हुई तो 70 हजार की नौकरी छोड़ दी।

अब 93 हजार से ज्यादा सबस्क्राइबर हैं। अब कारोबार जगत से भी प्रमोशन को लेकर ऑफर मिलते हैं। इसमें जो लोग इसमें आगे बढ़ना चाहते हैं, उन्हें पहले व्यूज, सबस्क्राइबर बढ़ाने के लिए मेहनत करनी होगी। कॉपी पेस्ट नहीं चलेगा। नियमित पोस्ट जरूरी है ताकि दर्शक बढ़ते रहे।

रजनी सिंह बाली, ट्रैवल एंड कल्चर इंफ्लुएंसर्स (शौकिया तौर पर शुरू किया, बन गई अलग पहचान)

स्कूल टाइम से शौकिया तौर पर सोशल मीडिया का इस्तेमाल शुरू किया था। ट्रेवलिंग, नेचर और कल्चर के वीडियो सोशल मीडिया पर डालने लगी तो हजारों लोगों ने इसे पसंद किया। फॉलोवर्स बढ़े जिसके बाद कमाई को लेकर भी काफी ऑफर आए।

सोशल मीडिया पर अलग पहचान बनी तो दोस्तों ने भी यह जरिया अपनाया। अब मेरे कई दोस्त सोशल मीडिया पर फुल टाइम देकर पैसा कमा रहे हैं। हालांकि, मैं अभी एचएएस की तैयारी कर रही हूं। हिमाचल में इस क्षेत्र में काफी संभावनाएं हैं।

यहां के खूबसूरत स्थान लोग देखना चाहते हैं। इसमें जो लोग घूमने फिरने और वीडियोग्राफी का शौक रखते हैं, उनके लिए सोशल मीडिया कमाई का अच्छा प्लेटफॉर्म है।

विनीत, फोटोग्राफर एंड ट्रैवलर इंफ्लुएंसर्स (चुनौतियां हैं, लेकिन अवसर भी है सोशल मीडिया)

सोशल मीडिया पर शुरुआत में कई चुनौतियां रहती हैं, लेकिन एक बार अगर इससे पार पा लिया तो कमाई के अवसर बढ़ जाते हैं। सोशल मीडिया पर फोटोग्राफी के जरिये मुझे पहचान मिली जिसके बाद अलग-अलग जगहों से फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी को लेकर ऑफर मिलते हैं।

अब आदमी के पास हाई स्पीड इंटरनेट है। ऐसे में सभी वीडियो और रील देख रहे हैं। फोटोग्राफी का क्रेज कम हुआ है। ऐसे में खुद को इस हिसाब से बदलना भी जरूरी है।

वरुण, प्रोफेशनल फोटोग्राफर एंड इंफ्लुएंसर्स (सोशल मीडिया से है कमाई के कई विकल्प)

सोशल मीडिया पर पहचान बनाने के बाद कमाई के दो विकल्प खुलते हैं। पहला यह कि किसी की प्रमोशन कर पैसा लो, दूसरा प्रमोशन के एवज में सुविधाएं लो। मेरे हिसाब से दूसरा सिस्टम गलत है। इससे प्रोफेशनल को नुकसान होता है। अब यूट्यूब और टैक्स पॉलिसी भी लागू हो रही है।

कमाई का एक हिस्सा काट लिया जाता है जिससे नुकसान होता है। यूट्यूब पर हमारा वीडियो धुड्ू नचया गाना नौ मिलियन से ज्यादा देखा जा चुका है। खुशी होती है जब आपको इतने व्यूज मिले और पैसा आए।

मोहित, ब्लॉगर एंड इंफ्लुएंसर्स (सोशल मीडिया को समय देंगे तो पैसा भी मिलेगा)

सोशल मीडिया को समय देने की जरूरत है। पैसा खुद मिलने लगेगा। हालांकि, कई चैलेंज भी हैं। नियमित पोस्ट नहीं डालेंगे तो फॉलोअर गिरने लगते हैं। इसमें जो ट्रेंड कर रहा है, उसके साथ चलना जरूरी है। वीडियो की जगह अब रील ज्यादा चलने लगी है।

सोशल मीडिया पर कई लोग पैसा देकर फॉलोअर बढ़ाने के ऑफर भी देते हैं, इनसे बचना जरूरी है। पैसे देकर बढ़ाए फॉलोअर आर्गेनिक नहीं होते। इनसे आपको ज्यादा व्यूज नहीं मिलेंगे। कुछ समय बाद यह घटने लगते हैं।

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।