मंडी में बादल फटने से 3 दुकानें हुईं क्षतिग्रस्त

मंडी जिला में अभी मानसून का कहर थमा नहीं है. एक और घटना में मंडी जिला के बागी में बादल फटने से भारी तबाही मची है। गुरूवार देर रात पराशर के पास बागी में हुई तेज बारिश की वजह से नाले का जलस्तर बढ़ गया। बादल फटने से किसी तरह का जानी नुक्सान होने की खबर नहीं है.

दुकानों में घुसा मलबा

पानी अपने साथ भारी मलबा भी बह कर लाया जिससे काफी नुकसान हुआ है। मलबा लोगों की दुकानों और मकानों में घुस गया। वहां मौजूद लोगों ने बड़ी मुश्किल से जान बचाई. बादल फटने से किसी तरह का जानी नुकसान तो नहीं हुआ है लेकिन तीन दुकानें क्षतिग्रस्त हुई हैं।

यातायात हुआ प्रभावित

नाले के साथ भारी मलबा आने की वजह से सड़क भी बंद हो गई है। कई लोगों को घर तक जाने का रास्ता तक नजर नहीं आ रहा है। इससे यातायात भी पूरी तरह से ठप्प हो गया है.

गाड़ियों को भी पहुंचा नुक्सान

बादल फटने से कई गाड़ियों को भी नुकसान हुआ है। राहत और बचाव का काम जारी है। प्रशासन मलबा हटाने की कोशिश में लगा है। बाइकों को मलबे से बाहर निकाल लिया गया है जबकि दुकानों के आसपास पड़े मलबे को हटाने का कार्य जारी है। प्रशासन की टीमें सुबह से ही घटनास्थल पर राहत एवं बचाव कार्य में जुट गई हैं।

राहत कार्य ज़ारी

एसडीएम सदर पूजा चौहान ने बताया कि घटना बीती रात की है। हालांकि उन्होंने बादल फटने की घटना से इनकार किया है और इसे मूसलाधार बारिश बताया है। उन्होंने कहा कि गांव में आए मलबे को हटाने का प्रयास किया जा रहा है।

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।