मंडी में एचआरटीसी कर्मियों ने की जमकर नारेबाजी

मंडी — वर्क टू रूल के तहत ड्यूटी बजाने की मुहिम बुधवार को जारी रही। बस अड्डा मंडी में हिमाचल पथ परिवहन निगम संयुक्त समन्वय समिति के अध्यक्ष जोगिंद्र सिंह गुलेरिया की अगवाई में निगम के अडि़यल रवैये के खिलाफ चालकों और परिचालकों ने खूब हल्ला बोला और प्रबंधन के ढुलमुल रवैये के प्रति जमकर नारेबाजी की। उन्होंने प्रबंधन द्वारा अपनाए जा रहे दोहरे रवैये के कारण मांगों को पूरा न करने के कारण निगम के कर्मचारियों में निगम के प्रति आक्रोश व्याप्त है। चालकों और परिचालकों को ओवर टाइम, रात्रि भत्ता, टीए नियमों के तहत वहन नहीं किया जा रहा है, जबकि निगम के प्रबंधकों ने बैठक के दौरान उक्त सभी मांगें पूरी करने का आह्वान किया था।

साथ ही फ्लैट रेट देय करने का फैसला लिया गया था, लेकिन मांगें मानने के बावजूद भी अब कर्मचारियों के हितों की अनदेखी की जा रही है, जो कि यूनियनों के पदाधिकारी को किसी भी सूरत में सहनीय नहीं है। निगम के कर्मचारियों द्वारा 15 से 16 घंटे ड्यूटी देने के बाद भी आठ घंटे की ड्यूटी बजाना नहीं बनता है। अस्थायी कर्मचारियों को स्थायी नहीं किया जा रहा है और खाली पदों पर नई नियुक्तियां न होने के कारण निगम के कर्मचारी अतिरिक्त काम के बोझ तले दब कर रहे गए हैं। उक्त सभी कारणों को मद्देनजर रखते हुए निगम के चालकों-परिचालकों ने दोबारा से आंदोलन का रुख अख्तियार कर लिया है और वर्क टू रूल के तहत काम करने का निर्णय लिया है। मंडी कर्मचारी वर्क टू रूल के तहत छह दिनों के बाद साप्ताहिक अवकाश करेंगे।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।