हौलेज वे सिस्टम (Haulage Way System)

हौलेज वे सिस्टम (Haulage Way System)

haulage way trolley shanan joginder nagar haulage way trolley shanan joginder nagar

जोगिंदर नगर, शानन में बना हौलेज वे सिस्टम (Haulage Way System – रस्सियों की सहायता से चलने वाली ढुलाई मार्ग प्रणाली ) सम्भवत: विश्व में इस प्रकार की एकमात्र प्रणाली है. 4150 फीट की ऊंचाई पर स्थित “बफर स्टॉप” के बाद इस ढुलाई मार्ग प्रणाली में कई ठहराव स्थल हैं. अगला ठहराव स्थल “ऑडिट जंक्शन” है जोकि 6000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है. इस स्थान को अठारह नम्बर भी कहा जाता है. यह स्थान शानन से 1.5 किमी की दूरी पर है. विन्च-कैंप आधार स्थल से चार किमी की दूरी पर है. यह स्थल प्राकृतिक सौन्दर्य से परिपूर्ण एवं अत्यंत रोमांचपूर्ण है और यहाँ साल भर पर्यटक और रोमांच पसंद पिकनिक और बर्फ का आनन्द लेने के लिए आते हैं.

(Haulage Way System – Video)

बरोट इस प्रणाली का अंतिम ठहराव या गंतव्य स्थल है जोकि इस प्रणाली के आधार स्थल शानन से नौ किमी की दूरी पर स्थित है. गौरतलब है कि जोगिंदर नगर(शानन) से बरोट की वास्तविक सड़क दूरी 40 किमी है. अंग्रेजों ने इस ढुलाई प्रणाली का निर्माण एवं उपयोग शानन में बिजली घर बनाने के लिए किया था. यह दुखद है कि अंग्रेजों की पहल के बाद इस प्रणाली को जोगिंदर नगर और बरोट घाटी के बीच परिवहन और पर्यटन के विकल्प के तौर पर लगभग नजरअंदाज ही कर दिया गया है.

बरोट में स्थित उहल नदी पर बने जलाशय से पाइपों के द्वारा पानी 3280 फीट पर स्थित शानन में बने बिजली घर तक लाया जाता है. यह ढुलाई प्रणाली इन पाइपों के साथ साथ ही बनी है. इस ढुलाई प्रणाली में वहन क्षमता 15, 10, 5 टन है. अधिक भारण होने पर गति कम हो जाती है.

वर्तमान समय में ढुलाई वाहन ट्रॉली (Haulage Way System) यदा कदा ही चलती है. आजकल ट्रॉली दिन में दो बार शानन स्थित आधार स्थल से अठारह नम्बर तक चलती है. यह आधार स्थल से विन्च कैंप तक सप्ताह में एक बार चलती है. शानन से बरोट तक यह ट्रॉली दुर्लभ अवसरों पर ही चलती है.

Facebook Comments