3 क्विंटल घृत मंडल से हुआ बैजनाथ में शिवलिंग का श्रृंगार

बैजनाथ : मकर सक्रांति के अवसर पर हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी विश्व प्रसिद्ध बैजनाथ मंदिर में घृत मंडल चढ़ाया गया. इसमें 3 क्विंटल शुद्ध घी का प्रयोग किया गया. विभिन्न प्रकार के मेवों से शिवलिंग का श्रृंगार करने सजाया जाता है. इस घृत मंडल को 8 दिन बाद शिवलिंग से उतार कर श्रद्धालुओं में प्रसाद के रूप में बांटा जाएगा.

8 दिन तक शिवलिंग पर चढ़ा रहेगा घृत मंडल

बैजनाथ शिव मंदिर के पुजारी सुरेन्द्र आचार्या तथा धर्मेन्द्र शर्मा का कहना है कि सबसे भगवान शिव का रुद्राभिषेक किया जाता है उसके बाद भगवान शिव को भुज पत्र से ढक दिया जाता है. उसके ऊपर मक्खन से लेप किया जाता है.विभिन्न प्रकार के मेवों से शिवलिंग का श्रृंगार करने सजाया जाता है.

8 दिन बाद मिलेगा प्रसाद

घृत मंडल को तैयार करने के लिए घी को 108 बार पानी से धोकर मक्खन बनाया जाता है. इस घृत मंडल को 8 दिन बाद शिवलिंग से उतार कर श्रद्धालुओं में प्रसाद के रूप में बांटा जाएगा. भक्त जन इस प्रसाद को संभाल कर रखते हैं.मान्यता है कि इस प्रसाद रुपी घी को पुराने चर्म रोगों पर लगाने से रोग मिल जाता है.

विश्व प्रसिद्ध स्थल बैजनाथ मंदिर के बारे में जानने के लिए यहाँ करें क्लिक >>

बैजनाथ शिव मंदिर – मंदिर वास्तुकला का उत्कृष्ट उदाहरण

 

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।