हिमाचल के इस “नाना पाटेकर” की आवाज़ एक बार जरूर सुनें

जोगिन्दरनगर : हिमाचल में टैलेंट की कोई कमी नहीं है. यहाँ हर कलाकार अपने हुनर से लोगों के दिलों में छा जाता है. जिला मंडी का एक ऐसा ही प्रतिभाशाली युवक है जिसने सोशल मीडिया में अपनी कलाकारी से सभी को हैरान कर दिया है. मंडी जिला के सुंदरनगर स्थित आईटीआई में पढ़ने वाले एक दिव्यांग युवक अशोक कुमार से जिसको बेशक भगवान ने इस दुनिया को देखने के लिए आँखें नहीं दी हैं लेकिन हुनर ऐसा दिया है कि अपनी कला से बड़े -बड़े कलाकारों को पीछे छोड़ जाता है.

झबोला निवासी है अशोक

हुनर के धनी इस कलाकार का नाम अशोक है और यह बिलासपुर जिला की झंडूता तहसील के झबोला गाँव का रहना वाला है.

माँ- बाप का नहीं मिला प्यार

अशोक को बचपन से ही माँ-बाप का प्यार नहीं मिला. अशोक और उसकी बड़ी बहन दिव्यांग हैं तथा भाग्य की विडंबना देखिये उन्हें माँ -बाप ने बचपन में ही छोड़ दिया और उनकी परवरिश उनके ताया- ताई कर रहे हैं.

शिमला में की पढ़ाई

अशोक के ताया-ताई ने अशोक को शिमला के ढली में विशेष बच्चों के स्कूल में पढ़ाई के लिए छोड़ दिया था तथा उसके बाद जमा दो करने के पश्चात सुंदरनगर में आईटीआई में पढ़ाई के लिए दाखिला हुआ.

कलाकारों की हुबहू निकालता है आवाजें

अशोक कुमार ने बचपन से ही रेड़ीयो पर कलाकारों की आवाजें सुन -सुन कर  हूबहू नकल करने में महारत हासिल कर ली थी. अशोक की प्रतिभा का खुलासा तब हुआ जब उनके कालेज में 14 नवम्बर के उपलक्ष में समारोह का आयोजन किया गया था. अचानक एक डायलाग बोलकर अशोक ने सभी को अचम्भे में डाल दिया और उसके बाद सोशल मीडिया में उनके डायलोग वायरल हो गये और उनके डायलोग ने काफी वाहवाही लूटी.

क्या कहते हैं प्रधानाचार्य

आईटीआई के प्रधानाचार्य विजय चौधरी और शिक्षिका पार्वती ने कहा कि अशोक कुमार एक बहुत ही होनहार छात्र है.उन्होंनें कहा कि अशोक कुमार कई फ़िल्मी कलाकारों की आवाजें निकालता है तथा उसकी इस प्रतिभा को देखकर सभी हैरान हैं.

 

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।