दुखद बस हादसे में 26 स्कूली बच्चों सहित 29 लोगों की मौत

कांगड़ा : हिमाचल प्रदेश के कांगडा जिले में एक भीषण सड़क हादसा हुआ है। एक स्कूल बस के 150 मीटर गहरी खाई में गिरने से 26 स्कूली बच्चों, 2 अध्यापकों समेत 29 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई के घायल होने की सूचना है।बताया जा रहा है कि बस में 35 बच्चों समेत 40 लोग सवार थे। घटनास्थल में ही 13 लोगों की मौत हो गई थी. वहीँ स्कूल का प्रबंधक परिवार सहित भूमिगत हो गया है.

मारे गये बच्चों की उम्र 10 से कम

मारे गए बच्चे नर्सरी से पांचवीं कक्षा के हैं। सभी बच्चों की उम्र 10 साल से कम है। छह घायलों को प्राइवेट अस्पताल पठानकोट में भेजा गया है। राहत और बचाव के लिए एनडीआरएफ की टीम बुलाई गई है। एसडीएम नूरपुर ने कहा कि घटना में कुल 26 बच्चों, दो अध्यापकों समेत 29 लोगों मौत हो चुकी है.

वजीर राम सिंह पठनीय मेमोरियल स्कूल की थी बस

जानकारी के अनुसार, निजी स्कूल की यह बस छुट्टी के बाद बच्चों को घर छोड़ने जा रही थी कि नूरपुर-मलकवाल के पास पलटने के बाद लगभग डेढ़ सौ फीट गहरी खाई में जा गिरी। बलजीत राम पठानिया स्कूल की यह बस मलकवाल से ठेहड़ के पास हादसे का शिकार हुई है। घायल बच्चों को सिविल अस्पताल नूरपुर के अलावा, निजी अस्पताल पठोनकोट भेजा गया है।

बस पलटने से हुआ हादसा

शुरुआती जानकारी के अनुसार नूरपुर-मलकवाल के पास पलटने के बाद लगभग डेढ़ सौ फीट गहरी खाई में जा गिरी है। ये बच्चे राम सिंह पठानिया पब्लिक स्कूल गुरचाली के थे। मृतकों का आंकड़ा बढ़ने की आशंका जताई जा रही है क्योंकि कई बच्चे अभी भी दबे हुए हैं जिन्हें अभी निकालने की ​कोशिश की जा रही है।

सदमें में हैं परिजन

यह हादसा मलकवाल से ठेहड़ के बीच हुआ। घायल बच्चों को सिविल अस्पताल नूरपुर में भर्ती करवाया गया है। हादसे की जानकारी के बाद बच्चों के परिजन गहरे सदमे में हैं। बताया जा रहा है कि हादसे के बाद से स्कूल के प्रबंधक का कोई सुराग नहीं है। सिर्फ प्रबंधक नहीं बल्कि उनका पूरा परिवार ही भूमिगत हो गया है।

मुख्यमंत्री ने जताया दुःख

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस हादसे पर गहरा खेद व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि हादसे के कारणों की उच्च स्तरीय जांच करने का आश्वासन दिया है। मुख्यमंत्री ने मृतकोें के परिजनों को पांच पांच लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है।

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।