मैंझा के जंगल में सजी ‘लालपरी’ की महफिल

मैंझा (पालमपुर) — पालमपुर के करीब मैंझा में न्यूगल खड्ड के मुहाने पर बाहर से आए करीबतीन दर्जन लोगों ने बिना अनुमति टैंट आदि लगाकर शराब की महफिल सजा दी। इस बात की जानकारी मैंझा की प्रधान को शनिवार देर रात मिली और उन्होंने ग्रामीणों के साथ रविवार सुबह उक्त स्थल का दौरा किया और इसकी जानकारी पुलिस को भी दी गई।

लोगों के अनुसार मैंझा मेंइस स्थान का प्रयोग बीते समय के दौरान भी शराब की पार्टियों के लिए किया जाता रहा है, जिसकी सारी सूचना प्रशासन को भी मुहैया करवाई गई है। रविवार को पंचायत प्रतिनिधियों, महिला मंडल सदस्यों और ग्रामीणों ने उस क्षेत्र का दौरा किया तो वहां पर पार्टी जारी थी और बाहर से पहुंचे लोग ठंडे पेय के साथ शराब व बीयर का सेवन भी कर रहे थे। यह देखकर ग्रामीण भड़क गए और वहां पार्टी कर रहे लोगों को बताया कि यहां सार्वजनिक तौर पर शराब का सेवन नहीं किया जा सकता साथ ही यहां पार्टी करने के लिए अनुमति भी ली जानी चाहिए।

इस दौरान पुलिस कर्मी भी यहां पहुंच गए और उन्होंने सारी स्थिति का जायजा लिया। जानकारी के अनुसार पार्टी करने वाले लोगों ने पंचायत को बताया कि उनको इस बात की जानकारी नहीं थी। सार्वजनिक स्थल पर इस तरह शराब का सेवन करने को लेकर पंचायत की ओर से उन लोगों का चालान काट कर दो हजार रुपए जुर्माना वसूला गया वहीं,27 मार्च की शाम तक साधारण पार्टी करने की अनुमति प्रदान की गई।

वूमन वेलफेयर एसोसिएशन की अध्यक्ष रक्षा जसवाल ने बताया कि यहां पर अकसर सजने वाली ऐसीपार्टियों के बारे में पहले भी प्रशासन को सूचित किया जा चुका है। मैंझा पंचायत प्रधान सुभाषना देवी ने बताया कि खुले में शराब पीने पर बाहर से आए लोगों का दो हजार रुपए का चालान काटा गया है और उनको सोमवार शाम तक साधारण पार्टी करने की इजाजत दी गई है।

इन्होंने दिखाई जागरूकता

क्षेत्र में खुले में शराब का सेवन करने की जानकारी मिलने पर पंचायत प्रधान सुभाषना देवी और वूमन वेलफेयर संस्था की अध्यक्ष रक्षा जसवाल के साथ एकता महिला मंडल की प्रधान बीना देवी, मीरा देवी, सुनीता देवी, धौलाधार विकास कमेटी के चंदु लाल, देव सिंह, विक्रम सिंह, मलूप सिंह, पंकज राणा, मेहर सिंह, किरपाल सिंह, महेश जसवाल और विपिन कुमार आदि ने जागरूकता दिखाते हुए बाहर से आए लोगों को ऐसा न करने की हिदायत दी।

स्रोत : दिव्य हिमाचल

Facebook Comments