पद्धर में पांच दिवसीय निष्ठा प्रशिक्षण के दूसरे बैच का हुआ समापन

पद्धर : मानव संसाधन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बीआरसी आफिस पद्धर द्रंग खंड -2 में पांच दिवसीय निष्ठा प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुक्रवार को समापन हो गया. इस प्रशिक्षण में कुल 120 अध्यापकों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया. कार्यक्रम के समापन की अध्यक्षता एलिमेंटरी शिक्षा विभाग ऊना से सेवानिवृत्त उप शिक्षा निदेशक भूप सिंह ठाकुर ने की. इस अवसर पर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सुधार के प्रधानाचार्य नागेन्द्र ठाकुर ने अभिप्रेरणा विषय पर  उद्बोधन किया.

गुरुओं ने लिए टिप्स

इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में स्कूल बेस्ड असेसमेंट,पेडागोगी ऑफ़ मैथ्स, पेडागोगी ऑफ़ भाषा तथा भाषा और पोक्सो एक्ट के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई. इसके अलावा अध्यपकों ने समूहवार कई महत्वपूर्ण विषयों बारे एक्टिविटी के साथ बेहतर प्रस्तुति दी.

 

टिप्स को धरातल में लाएं शिक्षक

भूप सिंह ठाकुर ने कहा कि सभी अध्यापक प्रशिक्षण में प्राप्त ज्ञान को धरातल में लाने का प्रयास करें तभी यह प्रशिक्षण सार्थक होगा. उन्होंनें कहा कि बच्चों को नैतिकता से ओत प्रोत शिक्षा प्रदान की जाए. बच्चों में आज के युग में संस्कार देना अति अनिवार्य है.

प्रशिक्षुओं को मिले बैग

प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे करीब 120 अध्यापकों को निष्ठां की ओर से बैग प्रदान किए. प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे गुरुओं ने निष्ठा प्रशिक्षण कार्यक्रम को सराहा. इस अवसर पर कई शिक्षकों ने अपने विचार साँझा किए व इस प्रशिक्षण को सराहा. वहीँ राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सुधार में कार्यरत टीजीटी वंदना ठाकुर का कहना है कि जो कुछ भी इस प्रशिक्षण में उन्होंनें हासिल किया है वह अपने विद्यालय में इसे लागू करने की कोशिश करेंगी. उन्होंनें अन्य अध्यापकों  से भी आह्वान किया कि वे भी सीखी गई बातों को अपने विद्यालय में लागू करें.

ये रहे उपस्थित

इस पांच दिवसीय प्रशिक्षण में खंड शिक्षा अधिकारी गोविन्द कटारिया,बीआरसी लेखराज ठाकुर,विजय कुमार,आरपी विजय सिंह,अमर सिंह,ओम राठौर,वीरेन्द्र आदि उपस्थित रहे.

बीआरसी ने किया सबका धन्यवाद

बीआरसी पद्धर विजय कुमार ने सभी प्रशिक्षु अध्यापकों, आरपी और बीआरसी का इस प्रशिक्षण को सफल बनाने हेतु धन्यवाद किया. उन्होंनें बताया कि अगला बैच 7 दिसम्बर से 11 दिसम्बर तक चलेगा.

 

 

 

 

 

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।