फिर से नमक तैयार होगा द्रंग में

जोगिन्दर नगर — द्र्ग स्थित भारत वर्ष की इकलौती चट्टानी नमक की खान में अब फिर से नमक तैयार होगा। करीब दो वर्षों से बंद पड़ी इस नमक खान में अब अगले चंद दिनों के भीतर फिर से उत्पादन शुरू होगा। हिमाचल सरकार के साथ रायल्टी विवाद के बाद इस खान में हिंदुस्तान साल्ट्स लिमिटेड ने उत्पादन बंद कर दिया था, लेकिन अब प्रदेश सरकार के साथ यह मसला प्रबंधन ने सुलझा लिया है। प्रदेश सरकार को रायल्टी के रूप दिए जाने वाले बीस लाख रुपए में से हिंदुस्तान साल्ट्स लिमिटेड ने 9.77 लाख रुपए की अदायगी कर दी है और शेष राशि 12 किस्तों में देने पर सहमति बनी है।

शिमला में प्रदेश अतिरिक्त मुख्य सचिव के साथ हुई हिंदुस्तान साल्ट्स लिमिटेड के सीएमडी आरके टंडन की बैठक में इस बारे में निर्णय हुआ है। हिंदुस्तान साल्ट्स लिमिटेड ने इस नमक खान में उत्पादन शुरू करने के लिए अब अगली कदमताल भी शुरू कर दी है। कंपनी की तरफ से दो वरिष्ठ अधिकारियों ने मंडी में डेरा जमा लिया है। इनमें हिंदुस्तान साल्ट्स लिमिटेड के तकनीकी विंग के ओएसडी डीपी मीना और लीगल व पर्सनल सैल के वीके चतुर्वेदी मंडी पहुंचे हुए हैं। गुरुवार को इन दोनों अधिकारियों ने जिला प्रशासन, माइनिंग विभाग और राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ भी बैठकें कीं। वहीं, दं्रग खान में निकलने वाले इस चट्टानी नमक की पूरे भारत वर्ष में मांग है। रायल्टी विवाद के चलते इस खान को जनवरी, 2011 को बंद कर दिया गया था।

कंपनी ने रायल्टी के रूप में हिमाचल प्रदेश सरकार को बीस लाख से अधिक की राशि देनी थी और इसके साथ कुछ अन्य मसलों के चलते दंरग खान में नमक उत्पादन रोकना पड़ा था। हालांकि 2023 तक कंपनी के पास इस खान में उत्पादन करने की लीज है। वहीं, इसी बीच अब हिंदुस्तान साल्ट्स लिमिटेड ने अपने सारे विवादों को सुलझाते हुए इस दं्रग खान में फिर से नमक उत्पादन करने का निर्णय लिया है। उधर, दं्रग खान के इंचार्ज आरटी माकना ने बताया कि रायल्टी संबंधि विवाद सुलझा लिया गया है। कुछ समय के भीतर अब फिर से यहां उत्पादन शुरू होगा। कंपनी के अधिकारियों का दावा है कि अगले कुछ हफ्तों के भीतर दं्रग खान में फिर से उत्पादन शुरू होगा। खान के अब फिर से शुरू होने से 100 से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।