लगातार बारिश से जनजीवन प्रभावित

जोगिन्दरनगर : प्रदेश में लगातार बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है. वहीँ ऊंची चोटियों में हुई हल्की बर्फ़बारी से तापमान में आंशिक रूप से परिवर्तन हुआ है. जोगिन्दरनगर क्षेत्र में भी रुक-रुक कर बारिश  का क्रम ज़ारी है. उपमंडल की रणा,गुगली,बजगर, सुकड़ व बलोहल खड्डों के अलावा नालों के पानी के जलस्तर में वृद्धि हुई है. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला से जारी बुलेटिन के तहत बारिश का यह क्रम 17 सितंबर तक जारी रहेगा।

जोगिन्दरनगर व इसके आसपास के क्षेत्रों में धान की फसल भी पकने के कगार पर है. ऐसे में बेमौसमी बारिश ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है. क्षेत्र में धान के खेत लबालब भर गए हैं जिससे धान की फसल को नुक्सान की सम्भावना है.

प्रदेश की राजधानी शिमला में भी भारी बारिश से जगह जगह भूस्खलन हुआ है व भारी बारिश का अलर्ट ज़ारी किया गया है .शुक्रवार रात को जिला शिमला के कई क्षेत्रों में भारी बारिश हुई है। हालांकि 12 सितंबर को भी यलो अलर्ट जारी किया गया है। गत रात्रि हुई बारिश की वजह से कई जगह लैंडस्लाइड होने की भी सूचना है। बारिश के चलते कई सड़कों पर डंगे गिरने से यातायात व्यवस्था भी अवरूद्ध रही है। लोगों को नदी नालों से दूर रहने की एडवाइजरी ज़ारी की गई है.

देश की राजधानी दिल्ली में भी बारिश ने 121 वर्षों का रिकार्ड तोड़ा है. दिल्ली में सड़कों ने तालाब का रूप ले लिया. कहीं गाड़ियाँ डूबीं तो कहीं नाव चली. राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के क्षेत्र में शनिवार की सुबह से हो रही तेज बारिश के कारण दिल्ली हवाई अड्डे के टर्मिनल-तीन और शहर के अन्य हिस्सों में पानी भर गया। बारिश के बाद कई सड़कों पर हुए जलजमाव ने लोगों की मुसीबतें भी बढ़ा दी हैं। हालांकि, इस दौरान लोगों ने बारिश का जमकर आनंद लिया।

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला की तरफ से एडवाइजरी जारी की गई है कि 12 सितंबर को कई क्षेत्रों में भारी बारिश हो सकती है। इस दौरान अधिकतर क्षेत्रों में भारी बारिश का भी पूर्वानुमान जारी किया गया है।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।