कड़ाके की ठण्ड की चपेट में समूचा जोगिन्दरनगर

 

जोगिन्दरनगर : कड़ाके की ठंड से जूझ रहे हिमाचल प्रदेश के आधे हिस्से में न्यूनतम तापमान जमाव बिंदू से नीचे पहुंच गया है। वहीँ जोगिन्दरनगर क्षेत्र भी शीतलहर की चपेट में है. सुबह -सुबह जोगिन्दरनगर क्षेत्र के समस्त गाँवों में सफेद बर्फ की चादर देखी जा सकती है. ठंडी हवाएं चलने से समस्त उपमंडल को कड़ाके की ठण्ड ने जकड़ लिया है. मौसम विभाग के अनुसार आगामी 30 दिसम्बर को बारिश और बर्फबारी की सम्भावना जताई गई है.

वीरवार  को हुई बर्फ़बारी

वीरवार को कुछ स्थानों पर हल्की बर्फबारी दर्ज की गई। मौसम विभाग ने 30 दिसंबर को अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश व बर्फबारी की संभावना जताई है। पहली व दो जनवरी को लाहुल-स्पीति, किन्नौर, चंबा, कुल्लू व मंडी, शिमला जिलों के अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बारिश व बर्फबारी हो सकती है। पिछले 24 घंटे के दौरान कल्पा में पांच सेंटीमीटर व मनाली में दो सेंटीमीटर हिमपात हुआ है।

माइनस से नीचे चल रहा तामपान

प्रदेश के कई क्षेत्रों में तापमान सामान्य से काफी नीचे चला गया है। प्रदेश में पहले से कई क्षेत्रों का तापमान माइनस में चल रहा है। ऐसे में आने वाले दिनों में तापमान में और अधिक गिरावट दर्ज की जा सकती है। इससे पर्यटकों ने शिमला, कुल्लू, मनाली का रुख कर लिया है।

ठंडी हवाओं का दौर ज़ारी

वीरवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम शुष्क रहा, लेकिन दोपहर बाद आसमान में बादल मंडराने के साथ-साथ तेज ठंडी हवाएं चलने का दौर जारी रहा। मैदानी क्षेत्रों में धुंध और पहाड़ी क्षेत्रों में कोहरा पड़ रहा है। 24 घंटें के दौरान प्रदेश के अधिकतम तापमान में दो से तीन व न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। वीरवार को प्रदेश का अधिकतम तापमान ऊना में 21.4, जबकि न्यूनतम तापमान केलंग में -9.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।