मंडी जिला में सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक मिलेगी बस सुविधा

मंडी : हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम मंडी लॉकडाउन के बाद सोमवार से योजनाबद्ध तरीके से बस सुविधा शुरू करेगा। निगम ने लोगों को सुविधा के लिए पूरी तैयारी कर ली है। पहले चरण में लोगों का रिस्पांस देखने के लिए 40-50 प्रतिशत ही बसें चलाई जाएंगी।  इसमें मंडी डिपो से निर्धारित रूट शिमला, मनाली, कुल्लू सहित लोकल रूट पर बसें चलेंगी। बस स्टैंड में टिकट काउंटर पर सवारियों को सीट बुक करवानी होगी।

परिचालक करेंगे जागरूक

बस रूट पर चलने से पहले परिचालक सवारियों को कोरोना वायरस के बचाव व सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में जागरूक करेगा।  इस बाबत रविवार को आरएम मंडी गोपाल शर्मा ने मंडी बस स्टैंड पर करीब 150 चालक-परिचालकों को बस चलाने व कोरोना वायरस से बचाव के लिए दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने समस्त चालक-परिचालकों को सुरक्षा किट भी वितरित की। उन्होंने कहा कि किट का सही ढंग से इस्तेमाल करें।  परिचालकों को बस में फेस कवर का प्रयोग करना अनिवार्य बताया।

बस स्टैंड में होगी थर्मल स्क्रीनिंग

उन्होंने बताया कि कंटेनमेंट और बफर जोन में बसों को नहीं रोका जाएगा। बसों में बैठने के लिए जगह होगी, तो ही सवारियों के लिए बसों को रोका जाएगा। 60 फीसदी सवारियां ही बिठाई जाएंगी। सुबह सात से शाम सात बजे तक ही बसें चलेंगी। वहीं मंडी स्टैंड में बसों का प्रवेश द्वार एक छोर से रखा गया है।

जहां लोगों व कर्मचारियों की स्वास्थ्य विभाग थर्मल स्क्रीनिंग करेगा। उसके उपरांत ही बस स्टैंड में प्रवेश मिलेगा। उन्होंने समस्त कर्मचारियों से आह्वान किया कि संकट की इस घड़ी में सवारियों को बस चलने से पहले बचाव के तौर-तरीकों से अवगत करवाएं।

बैठेंगी केवल 60 फीसदी सवारी

अगर किसी भी बस में 60 फीसदी से अधिक सवारियां पाई गईं, तो उस कर्मचारी की नौकरी खतरे में पड़ सकती है। इसके चलते प्रदेश सरकार द्वारा दी गई गाइड लाइन पर अपनी ड्यूटी दें।

अगर किसी कर्मचारी को किसी भी प्रकार की दिक्कत होती है, तो तुरंत विभाग को अवगत करवाएं। इस अवसर पर आरटीओ संजीत सिंह, अधीक्षक कोमल ठाकुर, बस अड्डा प्रभारी कृष्ण चंद, प्रदेश कंडक्टर यूनियन से पवन कुमार सहित अन्य उपस्थित रहे।

पंचायत करेगी खाने पीने की व्यवस्था

निगम की बसें निर्धारित रूट्स पर सुबह सात से शाम सात बजे तक दौड़ेंगी। जिस बस का रूट शाम को स्टेशन पर पूरा हो जाएगा। उस स्टेशन से संबंधित पंचायत के प्रधान को चालक-परिचालक के खाने-पीने की व्यवस्था करनी होगी। ये निर्देश आरएम गोपाल शर्मा व आरटीओ मंडी संजीत सिंह ने चालक-परिचालकों को दी। इस बारे में संबंधित क्षेत्र के बीडीओ को अवगत करवा दिया है।

यह होगी बस में व्यवस्था

रूट पर चलने वाली बसों पर योजनाबद्ध तरीके से सवारियां बिठाई जाएंगी। बस में दो सीट पर एक सवारी, तीन सीट वाली में दो सवारियां और आखिरी लंबी सीट पर तीन सवारियां ही बिठाई जाएंगी। बस की अगली तीन सीटें खाली रहेंगी। अगर निर्धारित रूट से सीधी 60 प्रतिशत सवारियां बैठ जाती हैं, सवारी बैठाने के लिए सीट होगी तभी बसों को रोका जाएगा। समयसारिणी में कोई अधिक बदलाव नहीं होगा।

सेनेटाईजेशन होती रहेगी

मंडी बस स्टैंड में बसों के अलावा यात्रियों के लिए लगाए गए बैंच, शौचालय, दुकान परिसर समय-समय पर सेनेटाइज होते रहेंगे। इसके अलावा बस स्टैंड में साफ-सफाई का भी विशेष ध्यान रखना होगा। बिना मास्क के कोई भी यात्री सफर नहीं कर सकता है।

सवारी को खुद लेना होगा टिकट

संक्रमण से बचाव के लिए एचआरटीसी ने पूरी तैयारी की है। अगर रास्ते में सवारी बैठती है, तो सवारी को परिचालक के पास स्वयं टिकट लेगी होगी। अगर सवारी को कोई परेशानी होती है। तो परिचालक स्वयं सवारी का टिकट काटेगा।

-- advertisement --
जोगिंदरनगर से जुड़ने/जोड़ने की हमारी इस कोशिश का हिस्सा बनें। इस न्यूज को
करें और हमारे फेसबुक पेज को भी
करें। इससे न केवल आप हमें प्रोत्साहित करेंगे बल्कि जोगिंदरनगर की लेटैस्ट न्यूज भी प्राप्त कर सकेंगे।