दुनिया की नम्बर वन साईट बन सकती है बीड़ -बिलिंग

जोगिन्दरनगर : जिला कांगड़ा हिमाचल प्रदेश की बिलिंग घाटी अन्तर्राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है जिसके लिए पूरे हिमाचल प्रदेश के लिए गर्व की बात है. धौलाधार के आंचल में बसी रोमांच से भरी हुई यह घाटी आजकल मानव परिंदों से गुलज़ार हो गई है. यहाँ अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की कई स्पर्धाएं भी हो चुकी हैं. इसमें कोई शक नहीं कि बीड़ बिलिंग साईट विश्व की नम्बर वन बन सकती है.

1984 में हुई थी शुरुआत

वर्ष 1984 में बीड़ बिलिंग नामक खूबसूरत जगह में हैंगग्लाइडिंग की शुरुआत वर्ल्ड कप के साथ हुई थी. उस समय किसी ने भी यह नहीं सोचा होगा कि एक दिन यह घाटी मानव परिंदों की दुनिया में ऐसी छाप छोड़ेगी कि पूरी दुनिया इस घाटी की कायल होगी.

केवल मनु कर रहे हैंगग्लाइडिंग

इस रोमाचंक घाटी में पिछले चार वर्षों से कोटली गाँव के मनु उर्फ़ मंजीत कुमार ने दावा किया है कि यदि प्रदेश सरकार इसे कमर्शियल तौर पर प्रोमोट करे तो दूसरे नम्बर पर आने वाली यह घाटी पहले नम्बर में आ सकती है.

समतल मैदान की है जरूरत

मनु का कहना है कि अगर लैंडिंग साईट में थोड़ा सुधार किया जाए तो इस दिशा में राह और भी आसान होगी. मनु ने बताया कि हैंगग्लाइडिंग के लिए समतल मैदान और स्लोप लैंडिंग की जरूरत होती है. लेकिन लैंडिंग साईट के इर्द गिर्ध  हो रहे भवन निर्माण के कारण इस रोमांचक खेल में रुकावट आ सकती है.

विश्व के मानचित्र में छाई घाटी

मनु का कहना है कि बिलिंग घाटी आज विश्व के मानचित्र पर छाई हुई है. 2015 में हुए पैराग्लाइडिंग वर्ल्ड कप के बाद यह घाटी सुर्खियों में आ चुकी है. सफल आयोजन के लिए तत्कालीन मंत्री सुधीर शर्मा का अहम योगदान रहा है. इस वर्ल्ड कप में विदेशी मेहमानों के अलावा वालीवुड के कई सितारों ने भाग लिया था.

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।