छपरोट के पास स्थित है छपड़ू बाबा का मंदिर

जोगिन्दरनगर : जोगिन्दरनगर उपमंडल के तहत छपरोट के करीब सुन्दर पहाड़ी में छपड़ू बाबा का मंदिर स्थित है.मंदिर कमेटी के प्रधान श्री देशराज ने @jogindernagar.com से बातचीत के दौरान बताया कि छपड़ू बाबा का यह मंदिर सैंकड़ों वर्ष पुराना है.

 

सिद्ध जोगी

किवदंती के अनुसार सिद्ध जोगी यहाँ शाहतलाई से यहाँ भ्रमण करते हुए आए थे तथा यहाँ अपना धूना लगाया था. यह स्थान लोगों की आस्था का केंद्र है तथा लोग दूर-दूर से बाबा जी के दर्शन के लिए यहाँ आते हैं. इस मंदिर के पुजारी स्वर्गीय खीरिया राम जी हुआ करते थे तथा अब उनके परिवार के लोग ही यहाँ पुजारी का कार्य देखते हैं.

इस स्थान में नवरात्रों के दौरान काफी भीड़ रहती है.लोग जागरण के द्वारा माँ भगवती की आराधना करते हैं तथा राम नवमी के दिन भंडारे का भी आयोजन किया जाता है. आजकल यहाँ के पुजारी कुफरू गाँव के बलबीर ठाकुर हैं तथा वही पूजा पाठ का कार्य देखते हैं.

बाबा जी के पुजारी और कमेटी प्रधान

बाबा जी के मंदिर के पास धूना जलता रहता है. कमेटी के प्रधान ने बताया कि वर्तमान कमेटी मंदिर के विकास के लिए प्रयासरत है. लोगों के सहयोग से यहाँ पर एक सराय व 6 कमरों का निर्माण किया गया है तथा पलस्तर का कार्य भी जल्द ही शुरू कर दिया जाएगा.

कमेटी प्रधान का कहना है कि यहाँ मंदिर के रास्ते के लिए पूर्व मंत्री ठाकुर गुलाब सिंह ने 3 लाख रूपये की राशि प्रदान की थी तथा ठाकुर गुलाब सिंह की पत्नी स्वर्गीय हेमा ठाकुर ने भी 2 लाख रूपये की राशि प्रदान की थी. लेकिन बरसात में रास्ता पत्थरों के गिरने के कारण क्षतिग्रस्त हो जाता है.

यहाँ हर रविवार को मंदिर के गूर के द्वारा पूछ भी दी जाती है. भक्त लोग अपनी -अपनी समस्याओं का समाधान पूछ द्वारा करते हैं तथा बाबा जी का आशीर्वाद पाते हैं.

मंदिर में गूर पूछ देते हुए

 

वर्तमान कमेटी के प्रधान श्री देशराज राव ,उपप्रधान श्री संजय कुमार सकलानी,सचिव और कोषाध्यक्ष श्री बृज लाल ठाकुर हैं. यह कमेटी 2010 से लगातार मंदिर के विकास के लिए प्रयासरत है.

जोगिन्दरनगर से बाबा जी के मंदिर में पहुचने का एक रास्ता वाया छपरोट है तथा दूसरा मझारनू गाँव से होता हुआ है जोकि जोगिन्दरनगर से दोनों तरफ से लगभग 8 या 9 किलोमीटर पड़ता है.

जय छपड़ू बाबा की

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।