देव चुंजवाला के हूम में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब

कुल्लू : 10 हजार फुट की ऊंचाई पर स्थित चुंजवाला टॉप पर शुक्रवार रात को हजारों श्रद्धालुओं ने देव श्री चुंजवाला के वार्षिक उत्सव में हाजिरी भरी। इस दौरान देवता के मंदिर परिसर और बागीथाच गढ़ में लोगों का इतना भारी हुजूम उमड़ा कि पैर रखने की जगह भी नहीं बची थी।

हूम पर्व में भाग लेते हजारों श्रद्धालु

देव श्री चुंजवाला के हूम में शामिल लोगों ने बताया कि दो साल के विराम के बाद इस उत्सव में इस बार दस से 12 हजार के बीच लोग शामिल हुए। इस उत्सव के लिए देव रथ को देवता की मुख्य कोठी शालागाड़ से वाद्य यंत्रों के साथ परंपरागत रूप से चुंजवाला स्थित मूल मंदिर में पहुंचाया गया।

इस दौरान पूरी रात को जहां लोगों ने देव आराधना की। वहीं, देव रथ को भी गर्भ गृह में प्रवेश करवाया गया। देव आज्ञा से देवता के गूर ने देव खेल के चलते श्रद्धालुओं की समस्या का समाधान भी किया। देवता के इस वार्षिक उत्सव में जिला मंडी व कुल्लू में विराजमान देवता के हारियानों के अलावा अन्य लोग भी श्रद्धा एवं अपनी समस्याओं के निराकरण को लेकर आते है।

देव समाज में देव श्री चुंजवाला को महादेव शिव के प्रतिरूप में जाना जाता है। देव उत्सव में शामिल हुए राजेंद्र रावत में बताया कि वे पिछले 50 वर्षों से निरंतर इस उत्सव के आते हैं, लेकिन इस बार रिकार्ड मात्रा में लोग चुंजवाला हूम में शामिल हुए।

देवता के इस वार्षिक उत्सव में देवता की सात हारिओं के तमाम हारियान अपने बच्चों के मुंडन संस्कार की रस्म भी पूरी करते हैं। इस वर्ष भी दर्जनों बच्चों के मुंडन संस्कार देव कारिंदों के माध्यम से करवाए गए।

 

जोगिन्दरनगर की लेटेस्ट न्यूज़ के लिए हमारे फेसबुक पेज को
करें।