जोगिन्दरनगर मेला: दस प्रतिशत बढ़ा देवताओं का नजराना

देवताओं की जलेब की अगुआई करते चौहर घाटी के प्रमुख देवता देव हुरंग नारायण
देवताओं की जलेब की अगुआई करते चौहर घाटी के प्रमुख देवता देव हुरंग नारायण

जोगिन्दरनगर|| जिला स्तरीय मेला जोगिन्दरनगर में पधारे देवी-देवताओं को दिए जाने वाले नजराने में इस वर्ष से दस प्रतिशत बढ़ोतरी की गयी है। यह बात पूर्व विधायक व हिमाचल प्रदेश सामान्य उद्योग निगम के उपाध्यक्ष ठाकुर सुरेंद्र पाल ने मेले का विधिवत उद्घाटन क रने के पश्चात अपने संबोधन में कही। उन्होंने मेला कमेटी व स्थानीय जनता को मेले की बधाई दी।

इस अवसर पर मेला कमेटी के अध्यक्ष एवं एसडीएम जोगिन्दरनगर राहुल चौहान ने मुख्यातिथि का स्वागत किया व उन्हें शाल व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया।

इस मेले को देवता मेले के नाम से भी जाना जाता है. मेले में देवताओं के पधारने से समूचा जोगिन्दरनगर देवमय हो जाता है. ज्ञात रहे कि, चौहारघाटी के देव हुरंग नारायण तथा देव पशाकोट सहित देव गहरीदेव सूत्रधार ब्रह्मा सहित अन्य स्थानों से आये कुल 100 देवी- देवताओं मेले में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाते हैं.

जोगिन्दरनगर के मेले की शुरुआत 1937 में मंडी रियासत के तत्कालीन राजा जोगिन्दर सेन ने स्थानीय सनातन धर्म मंदिर में शिवलिंग की स्थापना के साथ की थी. तब से लेकर आज तक यह देव मेला अपनी परम्परा को बनाए हुए है.

Facebook Comments