सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत के बाद लडभड़ोल के बीरु गांव में पसरा सन्नाटा


लडभड़ोल.कॉम।। सरकाघाट के पास सोमवार को सड़क हादसे में 6 लोगों की मौत के बाद बीरु गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। इस हादसे से पूरे लडभड़ोल क्षेत्र में शोक की लहर है। इस घटना से पुरे लडभड़ोल में भी मातम छा गया है। बीरु गांव एक ही परिवार में हुई 5 मौतों ने ताउम्र न भूलने वाले जख्म दिए हैं। हादसे की खबर मिलते ही सभी रिश्तेदार घटनास्थल के लिए रवाना हो गए।

एक और घायल ने दम तोडा

लडभड़ोल.कॉम को मिली ताजा सूचना के अनुसार हादसे में एक और घायल ने दम तोड़ दिया है जिससे मृतकों की कुल संख्या अब 6 हो गयी है। परिवार के सदस्य दो गाडिय़ों में सवार थे। दुर्घटनाग्रस्त हुई कार को दूल्हे का चाचा शरीफ खान चला रहा था। सवा पांच बजे के करीब सरकाघाट से 9 किलोमीटर दूर बरांग पुल के समीप पहुंचते शरीफ खान ने गाड़ी से नियंत्रण खो दिया जिससे गाडी पहाड़ी से लुढ़कते हुए करीब 600 फुट नीचे उसी सड़क पर आ गिरी।

कई पलटे खाते हुए खाते हुए गिरी गाडी

हादसा इतना भयानक था कि जाइलो पहाड़ी से कई पलटे खाते हुए सीधे ब्रांग पुल के पास आईपीएच विभाग के पंप हाउस के पास उल्टी जा गिरी। उस समय आसपास काम कर रहे ग्रामीणों ने जैसे ही गाड़ी को नीचे गिरते देखा तो वे सब मौके पर पहुंच गए और घायलों को 108 एंबुलेंस से सरकाघाट अस्पताल पहुंचाया। सूचना मिलते ही एसडीएम व एसएचओ मौके पर पहुंच गए। कार में सवार शरीफ खान ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटना में मारे गए शरीफखान सेना के कैप्टन रिटायर्ड थे।

लडभड़ोल.कॉम के फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

मृतकों में सगे भाई बहन भी

परिवार के अन्य सदस्य जाफर खान, जानकी और शबनम, यास्मीन ने अस्पताल उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। हादसे में घायल परिवार के चार सदस्यों को हबीब , तस्लीम, जाकरी व दो वर्षीय बच्ची सम्मी को जोनल अस्पताल मंडी रैफर कर दिया गया है। जहां पर उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं, एक घायल मकसूद का सिविल अस्पताल सरकाघाट में इलाज चल रहा है। मृतकों में दो सगे भाई बहन भी बताये जा रहे है।

सगाई करने के बाद लड़भड़ोल लौटे वक्त हुआ हादसा

आपको बता दें की Xylo गाडी HP 33 T 9268 में सवार होकर परिवार के सभी सदस्य लड़के की सगाई करने भडयार गए थे। भडयार में सगाई करने के बाद लड़भड़ोल लौट रहे थे तभी यह हादसा हो गया।

हादसे ने झकझोर कर रख दिया पूरा लडभड़ोल

इस घटना में एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत जैसी घटना से गांव के लोग काफी आहत हैं। इससे गांव का माहौल काफी गमगीन हो गया। गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। गांव का हर कोना सुनसान और खामोश दिख रहा था। इस घटना ने बीरु गांव सहित पुरे लडभड़ोल को ही झकझोर कर रख दिया है। दुर्घटना के बाद गांव के किसी भी घर में चुल्हे नहीं जले है। घटना पर जगह-जगह ग्रामीण बैठकर तरह-तरह की चर्चा करते देखे गए है।

न्यूज़ & फोटो लडभड़ोल.कॉम से साभार

Facebook Comments