रोहतांग टनल जल्द दिलाने वाली है बर्फ की कैद से आज़ादी

रोहतांग टनल के दोनों छोर जैसे-जैसे जुड़ने को नजदीक आ रहे हैं, वैसे-वैसे लाहुलियों का उत्साह बढ़ता जा रहा है। रोहतांग की पहाड़ियों में बन रही सुरंग अब मात्र 60 मीटर के लगभग रह गई है।

2 हफ्ते में जुड़ेंगे दोनों छोर

मनाली की ओर साऊथ पोर्टल और लाहौल की ओर नॉर्थ पोर्टल में खुदाई का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। 2 सप्ताह में सुरंग के दोनों छोर जुडऩे जा रहे हैं। इस खुशी में लाहौल के नॉर्थ पोर्टल के साथ लगती कोकसर ग्राम पंचायत सहित सिसु और गोंदला पंचायतें आयोजन सहित स्वागत समारोह आयोजित करने जा रही हैं।

लाहुलियों को है इस लम्हे का इन्तजार

इन पंचायतों के लोगों सहित हजारों लाहुलियों को उस ऐतिहासिक लम्हे का इंतजार है। ग्राम पंचायत कोकसर की प्रधान अंजू ने बताया कि सुरंग के छोर जुडऩे को लेकर ग्रामीण उत्साहित हैं। उन्होंने बताया कि तीनों पंचायतें स्वागत समारोह करेंगी और निर्माण करने वालों को सम्मानित करेंगी। बी.आर.ओ. रोहतांग सुरंग परियोजना के चीफ इंजीनियर कर्नल निलेश चन्द्र राणा ने बताया कि बी.आर.ओ. अपनी मंजिल के करीब पहुंच गया है।

Facebook Comments