मंडी में बारिश-बर्फबारी से जिंदगी जाम

जोगिन्दर नगर — वर्ष 2013 की पहली बर्फबारी से जिला की ऊंची चोटियों ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। उपरी क्षेत्रों में हिमपात होने से समूचा मंडी जिला शीतलहर की चपेट में आ गया है। जिला की सबसे ऊंची चोटियों पर तीन से साढ़े तीन फुट बर्फ गिर चुकी है। ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। वहीं जिला के निचले क्षेत्रों में बारिश हो रही है। बारिश व बर्फबारी के चलते जिला में तापमान में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है। गुरुवार को जिला में अधिकतम तापमान दस डिग्री और न्यूनतम 4.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जबकि शुक्रवार को न्यूनतम तापमान पांच डिग्री के करीब आंका गया। तापमान में आई भारी गिरावट से मंडी ठंड से जाम हो गई है। गुरुवार सुबह से ही जिला की ऊंची चोटियों में बर्फबारी व निचले क्षेत्रों में बारिश हो रही थी।

वहीं शुक्रवार को भी दिन भर बर्फबारी व बारिश का दौर जारी रहा। मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार दोपहर तक जिला में 40 मिलीमीटर से ऊपर बारिश दर्ज की गई। उधर जिला के दूरदराज इलाकों सराज, करसोग और चौहार घाटी की पहाडि़यां बर्फ से लकदक हो गई हैं। सराज घाटी की शिकारी देवी, बड़ा नरोल, तुंगासी गढ़ और शीहल में तीन से साढ़े तीन फुट तक बर्फबारी हुई है। मगरूगला, रूपैहणी, घाट, रायगढ़, बावड़गढ़, देव कांढा, शाटीनाग, कमरूघाटी, छतरी, चेत, चियूणी, लुगाड़ी, भुलाह और बूड़ाकेदार में एक से डेढ़ फुट तक बर्फ गिरी है। उधर, रोहांडा, चौकी, पंडार, झुंगी, निहरी, बगस्याड, कांढा, केयोलीधार, कल्हणी, भाटकीधार, थाची, पंजाई, सुधराणी, डाहर, थाटा, धनियाहर, शिकावरी, रैनधार, रैनगलू, थुनाग, जरोल, चापड़, रोड, भराड़, जंजैहली, कुथाह, मगरू महादेव, चाठीनात, सोमा कोठी, बिहणीधार, ज्वालापुर की पहाडि़यां शोधाधार, धुलाची, कालीगढ़, बाड़ा, परवाड़, सराउगी, थाच, शिवा खड्ड, शिवा कुठेहड़, भड़ेचीनाल, लेहगला, बड़ा गांव, कोठी गेहड़, लंघ जोत, बरोट, गाड़ागुसैणी और डिडर आदि जगहों पर आठ से दस इंच तक बर्फबारी हुई है।

उधर, शुक्रवार को इन क्षेत्रों में बर्फ के फाहों का गिरना देर सायं तक जारी रहा व बारिश का दौर भी जारी रहा। बर्फबारी के चलते लोग घरों में ही दुबके रहे। वहीं बारिश व बर्फबारी के चलते जिला के बाजारों में रौनक गायब हो गई है। भारी बारिश के चलते जिला मंडी शीतलहर ने जकड़ लिया है। ठंड से बचने के लिए लोग आग व हीटर सेंक रहे हैं।

दिव्य हिमाचल के सौजन्य से

Facebook Comments