10 फरवरी से बारिश और बर्फ़बारी की उम्मीद

हिमाचल प्रदेश में शुष्क मौसम से लोगों को निजात मिलने की संभावना है। मौसम विभाग ने 10 फरवरी से राज्य में बारिश व बर्फबारी की उम्मीद जताई है। साथ ही 12 फरवरी को भारी हिमपात की चेतावनी जारी की है।

जल्द सक्रिय होगा पश्चिम विक्षोभ

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ जल्द सक्रिय होने वाला है और इसके प्रभाव से मौसम में बदलाव आएगा। 10 फरवरी को राज्य के मध्यवर्ती व अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपात हो सकता है और यह सिलसिला 13 फरवरी तक जारी रहने के आसार हैं। राज्य के मध्यवर्ती इलाकों में 12 फरवरी को भारी बर्फबारी हो सकती है। कुल्लू, शिमला, सिरमौर, किन्नौर, लाहौल-स्पीति तथा चम्बा जिलों में भारी बर्फबारी की सबसे अधिक संभावना है। इस अवधि में राज्य के निचले व मैदानी क्षेत्रों में बारिश होगी।

 

तापमान में भारी गिरावट

वीरवार को राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ  तो रहा लेकिन ठंड का असर भी कायम रहा। शिमला का अधिकतम तापमान 3 डिग्री लुढ़ककर 12.9 डिग्री सैल्सियस पहुंच गया। राजधानी के न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आई है और यह जमाव बिंदु के करीब पहुंच गया। यहां न्यूनतम तापमान 1.8 डिग्री सैल्सियस दर्ज किया गया। उधर, पर्यटन स्थल मनाली में भी कड़ाके की ठंड रही और न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सैल्सियस रिकार्ड हुआ, वहीं राज्य के जनजातीय हिस्सों का तापमान शून्य के नीचे बना हुआ है।

केलांग रहा सबसे ठण्डा

लाहौल व स्पीति के जिला मुख्यालय केलांग में सबसे ज्यादा ठंड महसूस की गई और न्यूनतम तापमान शून्य से 6.2 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। किन्नौर जिला के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.6 डिग्री नीचे दर्ज किया गया जबकि डल्हौजी का न्यूनतम तापमान 2.2 डिग्री दर्ज किया गया। इसके अलावा बिलासपुर में 2.7, चम्बा में 3.1, सुंदरनगर व पालमपुर में 3.5, कांगड़ा में 3.9, ऊना में 4, हमीरपुर में 5.2, मंडी में 5.7, नाहन में 6.5 और धर्मशाला में न्यूनतम तापमान 6.8 डिग्री रहा।
Facebook Comments