बीड़-बिलिंग में बिना लॉग बुक भरे उड़ान भर रहे पायलट्स के लाइसेंस जब्त

इन हिमाचल।। कांगड़ा जिले की दुनिया भर में प्रसिद्ध पैराग्लाइडिंग साइट बीड़-बिलिंग में करीब 12 पायलटों के लाइसेंस जब्त कर लिए गए है। पर्यटन विभाग के DTDO जगन ठाकुर ने 5 सदस्यों की टीम के साथ यह कार्रवाई की। टीम ने गुरुवार को पैराग्लाइडिंग साइट का सरप्राइज इंस्पेक्शन किया और वे यह देखकर सरप्राइज्ड रह गए कि लगभग एक दर्जन पायलट लॉग बुक नहीं भर रहे थे।

गौरतलब है कि ‘In Himachal’ ने कुछ दिन पहले मुद्दा उठाया था कि यहां से  ऐसे पायलट भी उड़ान भर रहे हैं जिन्होंने रजिस्ट्रेशन नहीं करवाया है। साथ ही पर्यटकों से दुर्व्यवहार के मामलों को लेकर भी ‘In Himachal’  ने प्रश्न उठाया था कि कोई बीड़ और बिलिंग में कोई भी रेग्युलेटरी बॉडी या उनके प्रतिनिधि न होने की वजह से वहां पर कल को कोई अप्रिय घटना हो जाए तो जिम्मेदार कौन होगा।

पढ़ें: बिलिंग में फ्लाइट के दौरान छेड़छाड़ के आरोप में पैराग्लाइडर पायलट पर FIR!

‘इन हिमाचल’ ने कुछ दिन पहले एक युवती द्वारा पायलट पर छेड़छाड़ के आरोप लगाए जाने वाली खबर कवर करते हुए लिखा था,बीड़-बिलिंग में शरारती तत्वों का जमावड़ा बढ़ता जा रहा है। यहां पर टेंडम फ्लाइट्स तो भरी जा रही हैं मगर यह निगरानी करने के लिए कोई अधिकृत संस्था नहीं है जो लोग यहां टूरिस्ट्स को अपने साथ उड़ा रहे हैं, उनकी क्वॉलिफिकेश क्या है या वे कितने ट्रेन्ड हैं। इससे वे अपने साथ-साथ बाहर से आने वाले टूरिस्ट्स की जान भी जोखिम में डाल रहे हैं। कुछ टूरिस्ट्स यहां तक शिकायत कर चुके हैं कि पायलट्स चरस और गांजा पीकर उड़ाने भरते हैं।

‘इन हिमाचल’ के फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

अब विभाग ने हरकत में आते हुए बी.पी.ए. के प्रतिनिधियों से बैठक कर 15 मई को सभी पायलटों के दस्तावेजों की जांच करने के साथ-साथ उनके मेडिकल और बीमा को सुनिश्चित करने का फैसला लिया है। बिलिंग पैराग्लाइडिंग असोसिएशन के के प्रतिनिधि सुरेश ठाकुर का कहना है कि  सोमवार तक पैराग्लाडिंग की उड़ानें पूरी तरह बंद रहेंगी।

Facebook Comments