बादल फटने से तबाही, मलबे में बही दुकानें

चम्बा: वीरवार को चाहला के पास शाम के समय बादल फटने के कारण अचानक नाले में आई बाढ़ के साथ बहे मलबे की भेंट सड़क किनारे बनी 6 दुकानें चढ़ गईं जबकि करीब 4 मोटरसाइकिल मलबे में दफन हो गए। भारी मात्रा में मलबा आने के चलते कुछ देर के लिए चम्बा-पठानकोट राष्ट्रीय उच्च मार्ग वाहनों की आवाजाही के लिए बंद हो गया तो वहीं सड़क किनारे बनी 6 दुकानों में पानी घुस गया और देखते ही देखते 3 दुकानें मलबे व पानी के साथ बह गईं जबकि शेष 3 दुकानें पूरी तरह से मलबे से भर गईं।

जानकारी के अनुसार जैसे ही मलबा व पानी आया तो उपरोक्त दुकानों में मौजूद लोगों को समयरहते इसका पता चल गया जिससे वे वहां से भाग खड़ेहुए। परिणामस्वरूप उन लोगों की जान बच गई।

…..तो बह सकता था पूरा गांव

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार राहत की बात यह रही कि मलबा व बारिश का पानी नाले से ही बहता हुआ आया। अगर रास्ते में मलबा फंस जाता तो मलबे का रुख गांव की तरफ मुडऩे के चलते भारी जानमाल का नुक्सान हो सकता था। उधर, इस बारे में सूचना मिलने पर एस.डी.एम.चम्बा बच्चन सिंह, राष्ट्रीय उच्च मार्ग मंडल के अधिशासी अभियंता अरुण पठानिया व द्रड़ा पुलिस चौकी में तैनात मुख्य आरक्षी हाकम चंद अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए और उन्होंने स्थानीय लोगों से इस बारे में जानकारी हासिल की।

मलबे ने यहां भी उड़ाए लोग के होश

उधर, शाम के समय राजनगर मार्ग पर भी भारी मात्रामें मलबा आने के चलते लोगों के होश उड़ गए। लोगों को लगा कि कही पर बादल तो नहीं फटा है लेकिन कुछ देर बाद यह जानकारी हासिल हुई कि ऐसी कोई घटना नहीं घटी है। इतना जरूर है कि भारी बारिश के कारण ऊपरी क्षेत्र में निर्माणाधीन एक सड़क का मलबा बारिश के कारण बह कर आया है। इसके बाद लोगों ने राहत की सांस ली लेकिन यह मलबा कुछ लोगों के खेत में घुस गया, जिसके चलते उक्त किसानों को इससे नुक्सान हुआ है।

स्रोत : पंजाब केसरी

Facebook Comments